ALL State International Health
वाराणसी में देह व्यापार का हुआ भंडाफोड़ तो छत से कूदने लगी लड़कियां, एक लड़की की गिरकर मौत
February 11, 2020 • A.K.SINGH

चार लड़कियां, तीन लड़के पुलिस हिरासत में,
पहाड़िया चौकी इंचार्ज, सहित दो निलंबित
    वाराणसी। कैंट थाना क्षेत्र की संजय नगर कॉलोनी में रविवार की रात गाड़ी खड़ा करने को लेकर हुए विवाद के बाद करीब पांच माह से चल रहे देह व्‍यापार के कारोबार का भंडाफोड़ हो गया। पुलिस को सूचना देने और युवकों से विवाद होता देख छत से पेड़ पर कूदने के प्रयास में गिरी युवती बेहोश हो गई। स्थानीय लोगों ने उसे दीनदयाल अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 
     घटना की जानकारी मिलने पर सीओ कैंट मुश्ताक अहमद समेत पहुंची पुलिस फोर्स ने चार अन्य युवतियों और तीन लड़कों समेत मकान मालिक को हिरासत में ले लिया। 
   रात 12 बजे एसएसपी प्रभाकर चौधरी घटना स्थल पर पहुंचे और मकान का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने पहाड़िया चौकी इंचार्ज काशीनाथ उपाध्याय और बीट कॉन्स्टेबल को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।
    पुलिस के अनुसार, संजय नगर कॉलोनी में धरहरा निवासी संजय सिंह उर्फ पप्पू के दो मकान हैं। एक मकान में वह खुद रहता है और सामने दूसरे मकान में देह कारोबार संचालित करा रहा था। कॉलोनी वासियों ने बताया कि पिछले पांच-छह माह से यहां सुबह से रात तक लड़के और लड़कियों का आना-जाना लगा रहता था। रविवार रात करीब दस बजे कॉलोनी वासियों से एक युवक से गाड़ी खड़ा करने को लेकर विवाद हो गया।
 शोरगुल सुनकर कॉलोनी के लोग बाहर निकल आए और पुलिस को सूचना दे दी। इस दौरान मकान से युवक के और साथी भी आ गए। कॉलोनी वासियों ने उन्हें पकड़ लिया और जमकर पिटाई की। पुलिस आने की सूचना मिलते ही भगदड़ मच गई और लड़कियां पेड़ और दूसरी छतों पर कूद कर भागने लगीं। इस दौरान एक लड़की पेड़ से गिरी और बेहोश हो गई।दीनदयाल अस्पताल में उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मृत युवती मुंबई की रहने वाली थी। 
    इसके अलावा पुलिस ने तीन युवकों आनंद सिंह (सिकरौल -भोजूबीर), सोनू चौरसिया (सोना तालाब, मां वैष्णवी कॉलोनी, सारनाथ) व करन (हुकुलगंज) को गिरफ्तार किया है।
      काफी देर बाद भी पुलिस के नहीं पहुंचने पर कॉलोनी वासियों का गुस्सा भड़क गया। लोगों ने खुद मोर्चा संभाला और रैकेट का भंडाफोड़ कर दिया। उनका कहना था कि इस दौरान दो-तीन बार पुलिस को फोन किया तब जाकर पुलिस मौके पर पहुंची। इस बीच उनकी युवकों से मारपीट भी हुई।
    संजय सिंह पर आरोप है कि वह पहले भी दूसरी जगहों पर रैकेट चलाता था। पकड़े जाने पर संजय नगर कॉलोनी में रैकेट चलाने लगा। संजय नगर कॉलोनी में लोगों ने पुलिस को फोन करके युवकों व युवतियों के पकड़े जाने की सूचना दी थी। पेड़ से गिरने से एक युवती की मौत हो गई।
   चार लड़कियों व तीन लड़कों को गिरफ्तार किया गया है। मामले में जांच की जा रही है। पहाड़िया चौकी इंचार्ज व बीट कॉन्स्टेबल को निलंबित कर दिया गया है। संजय नगर कॉलोनी स्थित मकान में चल रहे सेक्स रैकेट में विदेशी युवतियां भी शामिल थीं। पुलिस की पड़ताल में यहां से कई विदेशी वीजा व पासपोर्ट बरामद हुए हैं। 
     एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने देर रात सभी मंजिलों के कमरों में खुद जाकर छानबीन की और पड़ताल की। इस आधार पर पुलिस जांच कर रही है कि यहां पर हाईप्रोफाइल रैकेट चल रहा था। इसमें कई सफेदपोशों के नाम भी सामने आए हैं। 
    पूछताछ में लड़कियों का कहना है कि रैकेट में ज्यादातर लड़कियां बाहरी राज्यों की है।  जिस स्थान पर रैकेट चल रहा था, वह इलाका रिहायशी है। ऊंची बिल्डिंगों के बीच देह व्‍यापार चलना लोगों के गले नहीं उतर रहा था।
    लोगों ने इसमें पुलिस की मिलीभगत का भी आरोप लगाया। चाहे जो भी हो पर इस प्रकरण ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। शहर में इससे पहले भी रिहायशी इलाकों में सेक्स रैकेट का खुलासा हो चुका है।
     चार दिसंबर 2017 को भेलूपुर में गेस्ट हाउस में संचालक सहित चार महिलाओं को पुलिस ने पकड़ा था। रैकेट का मामला सामने आने के बाद एसएसपी ने पहाड़िया चौकी इंचार्ज को निलंबित कर दिया। बताया कि मकान सील किया जाएगा। देर रात फोरेंसिक टीम भी पहुंच गई थी।