ALL State International Health
शेल्टर होम में मुंबई से आये प्रवासी मजदूर की मौत
May 15, 2020 • A.K.SINGH

शेल्टर होम में मुंबई से आये प्रवासी मजदूर की मौत से जिला प्रशासन में हड़कम्प, कोरोना रिपोर्ट के बाद ही शव का होगा अंतिम संस्कार

 
जौनपुर- कोरोना वायरस के चलते जहां पूरे देश में दहशत का माहौल कायम है वही लॉक डाउन के चलते एक मजदूर मुंबई से चलकर बीते गुरुवार को दोपहर में मुंगराबादशाहपुर स्थित सार्वजनिक इंटर कॉलेज में क्वॉरेंटीन सेंटर पर मजदूर की मौत हो गयी।वही दूसरी तरह जिला अधिकारी ने बताया कि मृतक की  कोरोना जांच के बाद अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो प्रशासन के दिशा निर्देश पर अंतिम संस्कार होगा,और अगर रिपोर्ट निगेटिव आती है शव को परिजनों के हवाले कर दिया जाएगा।
    खबरों के अनुसार जफराबाद थाना क्षेत्र स्थित नाथुपुर गांव का रहने वाला है मृतक मजदूर प्रदीप कुमार पुत्र पूर्णमासी राम उम्र 34 वर्ष का था जो बीते  5 माह पूर्व मुंबई खाने- कमाने के लिए घर से मुंबई गया था। मृतक एक कपड़े की फैक्ट्री में काम करता था । लॉक डाउन के चलते फैक्ट्री बंद हो जाने के नाते फैक्ट्री मालिक फैक्ट्री ने निकाल दिया था। जिसके कारण उनको अपने गांव वापस लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा। बीते 1 हफ्ते पहले उसे बुखार होने के कारण उसे ट्रेन यात्रा करने के लिए रोक दिया गया था।
   किंतु बीते 3 दिन पहले ज़िद करके यदा-कदा लोकमान्य ट्रेन के द्वारा वह बीते गुरुवार को लगभग 11:00 बजे प्रयागराज पहुंचा वह से सरकारी बस द्वारा मुंगरा बादशाहपुर में सार्वजनिक इंटर कॉलेज में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर पर उसे रखा गया ।लेकिन अभी 24 घण्टे भी उसे आए हुए नहीं था  कि, शुक्रवार की सुबह लगभग 8:00 बजे उसकी मौत हो गई।
    मौत की सूचना पाते ही सारे अधिकारियों में हड़कंप मच गया और वहां पर पहुंची स्वास्थ टीम ने पीपीआई किट के माध्यम से मौत के कारण की जांच करना शुरू कर दिया डॉक्टर आरपी सिंह ने बताया कि मृतक मजदूरी के पहले से ही तबीयत खराब चल रही थी सैंपल जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा जाएगा और शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।
    मृतक व्यक्ति की सूचना पाते ही उसके परिजन को क्वारंटीन सेंटर पर पहुंचे मृतक के परिजन के अनुसार 3 साल पहले मृतक की शादी हुई थी जिससे एक छोटा बच्चा भी है। इसके पिता की भी मौत 7 साल पहले हो चुकी है ।
   घर में कमाने के लिए सिर्फ व्यक्ति था जो आज वह भी चला गया। घटना की सूचना सुनते ही जिले में हड़कंप मच गया सूचना पर पहुंचे जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने घटना की मृतक के परिजन से जानकारी लेते हुए एसडीएम मछली शहर अमिताभ यादव हिदायत देते हुए को कहा कि लेखपालों की ड्यूटी हटाकर वीडियो अस्तर की 8 घंटे की ड्यूटी लगाई जाए।
   इस अवसर पर सीओ मछली अवधेश शुक्ला, अधिशासी अधिकारी मीनाक्षी चतुर्वेदी , चेयरमैन शिव गोविंद साहू, डॉ राम विजय सिंह , उपनिरीक्षक मनोज सिंह व एसआई मिथिलेश कुमारी सहित पुलिस बल मौजूद रहे।