ALL State International Health
राज्य ग्राम्य विकास संस्थान के महानिदेशक के समक्ष नपा व जलनिगम पर बिफरे जनप्रतिनिधि
July 13, 2020 • A.K.SINGH

पं.रामनरेश त्रिपाठी सभागार में स्वछता पेयजल व्यवस्था व संचारी रोग नियंत्रण पर बैठक

सुलतानपुर : राज्य ग्राम्य विकास संस्थान के महानिदेशक एल वैंकेटेश्वर लू के साथ हो रही बैठक में जनप्रतिनिधियों का गुस्सा नगर पालिका व जलनिगम पर फूट पड़ा। लोगों ने दोनों विभागों के जिम्मेदारों द्वारा बरती जा रही लापरवाही को निशाना बनाया। स्वच्छता, पेयजल व जलनिकासी व्यवस्था और संचारी रोगों की रोकथाम को लेकर हो रही थी।

     पं.रामनरेश त्रिपाठी सभागार में आयोजित इस बैठक में विधायक सूर्यभान सिंह, नपा अध्यक्ष बबिता जायसवाल सहित वार्ड के सभासद मौजूद थे। सभासद डॉ.संतोष कुमार, बिन्नू पांडेय आदि लोगों ने पालिका पर सीधा निशाना साधा। कहा कि दो साल पहले विभिन्न कार्यों के लिए खरीदे गए वाहन कबाड़ में तब्दील हो रहे हैं, उनका सदुपयोग नहीं हो रहा है। वार्डों की सफई व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। कर्मियों से निजी काम लिए जा रहे हैं। लोगों ने महानिदेशक से कहा कि स्वच्छता के नाम पर आपको वही वार्ड दिखाया गया। जहां पर अभी कुछ ही दिन पहले नालियां बनवाई गई हैं, लेकिन उन वार्डों को भी देखिए जहां की नालियां टूट चुकी हैं। जलनिकासी न हो पाने से जगह-जगह जलजमाव हो रहा है।

     सफाई न होने से कूड़ा-कचरा सड़ रहा है। इस पर महानिदेशक ने पालिका के जिम्मेदारों से कहा कि सत्तर प्रतिशत से अधिक बीमारियों गंदगी व दूषित जल से होती हैं। लिहाजा इस पर पूरी गंभीरता के साथ काम किया जाना चाहिए। अमृत योजना के तहत जगह-जगह मुहल्लों में पाइप बिछाने के नाम पर मार्गों को खोद देने का भी मामला उठा। जलनिगम के अधिशासी अभियंता इसके लिए जिम्मेदार ठहराए गए। जिलाधिकारी सी इंदुमती ने अभियंता पर नाराजगी जताई। महानिदेशक ने एसडीएम को एक्सईएन के साथ मामले की जांच करने के निर्देश दिए। इस दौरान नोडल अफसर राजकमल यादव, एसपी शिवहरि मीणा, सीडीओ रमेश प्रसाद मिश्र, अपर जिलाधिकारी उमाकांत त्रिपाठी, डीडीओ डॉ.डीआर विश्वकर्मा आदि मौजूद रहे।