ALL State International Health
पटरी से उतरी मालगाड़ी, बाधित रहा रेल रूट
July 13, 2020 • A.K.SINGH
जंघई-प्रतापगढ़ रेलखंड पर जंघई-नीभापुर रेलवे स्टेशन के बीच फाटक संख्या 59-सी के समीप रविवार की शाम लगभग छह बजे एक मालगाड़ी के पटरी से उतरने से वाराणसी-प्रतापगढ़ रूट बाधित हो गया।

संवाददाता, मीरगंज (जौनपुर): जंघई-प्रतापगढ़ रेलखंड पर जंघई-नीभापुर रेलवे स्टेशन के बीच फाटक संख्या 59-सी के समीप रविवार की शाम लगभग छह बजे एक मालगाड़ी के पटरी से उतरने से वाराणसी-प्रतापगढ़ रूट बाधित हो गया। इससे रेल कर्मियों में अफरा-तफरी मच गई। मालगाड़ी के डीरेल होने की वजह से उसका पहिया टूट गया, जिसे दुरुस्त करने का सिलसिला देररात तक चलता रहा।

मुंगराबादशाहपुर से ट्रैक पर गिट्टी गिराने के लिए मालगाड़ी जैसे ही नीभापुर के आगे जंघई की तरफ बढ़ी एक बोगी का पहिया पटरी से उतर गया। इस दौरान पहिया टूट गया। मालगाड़ी के पटरी से उतरने की जानकारी मिलते ही रेल कर्मचारियों में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में गार्ड व चालक ने इसकी सूचना मुंगराबादशाहपुर व जंघई स्टेशन अधीक्षक को दिया। अधिकारियों ने इसकी सूचना तुरंत कंट्रोल रूम के माध्यम से अधिकारियों को दी। जानकारी होते ही इंजीनियरिग विभाग के जीसी मिश्रा, आरपीएफ इंस्पेक्टर हुकुम सिंह व मुंगराबादशाहपुर के स्टेशन अधीक्षक राकेश सिंह समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए। काफी मशक्कत के बाद भी खामी को दुरुस्त नहीं किया जा सका, जिसके बाद मुंगराबादशाहपुर से क्रेन मंगाए जाने को कहा गया। देररात लगभग साढ़े आठ बजे तक क्रेन का इंतजार होता रहा। जंघई स्टेशन के अधीक्षक वकील सिंह ने कहा कि बिना क्रेन के मालगाड़ी को पटरी पर लाना मुश्किल है। उन्होंने बताया कि मालगाड़ी के हटने तक ट्रैक पर ट्रेनों का संचालन बाधित रहेगा। बताया कि ट्रेनों का संचालन न होने से कोई यात्री गाड़ी प्रभावित नहीं हुई है।