ALL State International Health
पढ़ें बजट 2020-21 की सारी डिटेल्स यहां!!
February 2, 2020 • A.K.SINGH

पढ़ें बजट 2020-21 की सारी डिटेल्स यहां!!

●मोबाइल फोन विनिर्माण, कलपुर्जे, सेमीकंडक्टर के लिए नयी योजना लायी जाएगी 
,मोबाइल फोन विनिर्माण, कलपुर्जे, सेमीकंडक्टर के लिए नयी योजना लायी जाएगी, द्योग एवं व्यापार के विकास के लिए ऑनलाइन कृषि मंडी ‘ई-नाम' और सरकारी खरीद पोर्टल ‘जेम' के लिए 2020-21 में 27,300 करोड़ रुपये आवंटित किए गए. जल जीवन मिशन के लिये 3.6 लाख करोड़ रुपये की मंजूरी

●नयी शिक्षा नीति की घोषणा जल्द की जाएगी 
नई शिक्षा नीति की घोषणा जल्द की जाएगी, समाज के वंचित वर्ग के विद्यार्थियों के लिए डिग्री स्तर का ऑनलाइन शिक्षा कार्यक्रम शुरू किया जाएगा. शिक्षा प्रणाली में सुधार के लिये विदेशों से कर्ज और एफडीआई के उपाय किये जाएंगे.  

●ढांचागत परियोजनाओं के लिए 'परियोजना तैयारी सुविधा' विकसित की जायेगी
ढांचागत परियोजनाओं के लिए 'परियोजना तैयारी सुविधा' विकसित की जायेगी. ढांचागत क्षेत्र की सभी सरकारी एजेंसियों को इससे जोड़ा जाएगा.

●किसानों को सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने में मदद
जिन किसानों के पास बंजर जमीन है, उस पर उन्हें सौर बिजली इकाइयां लगाने और अधिशेष बिजली सौर ग्रिड को बेचने में मदद की जाएगी

●स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए लगभग 69 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान 
2025 तक टीबी समाप्त करने के लिए 'टीबी हारेगा देश जीतेगा' अभियान, 2024 तक सभी जिलों में जन औषधि केंद्र का विस्तार,  स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए लगभग 69 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान

●स्किल इंडिया के लिए 3 हजार करोड़ रुपये 
स्किल इंडिया के लिए 3 हजार करोड़ रुपये, 5 नए स्मार्ट सिटी विकसित किए जाएंगे, विदेशों में नौकरी के लिए ब्रिज कार्यक्रम चलाए जाएंगे. 

●शिक्षा क्षेत्र के लिए 99,300 करोड़ का प्रस्ताव
शिक्षा क्षेत्र के लिए 99,300 करोड़ का प्रस्ताव. राष्ट्रीय पुलिस विश्वविद्यालय और राष्ट्रीय न्यायिक विज्ञान विश्वविद्यालय का प्रस्ताव। कौशल विकास के लिए 3 हज़ार करोड़ का प्रस्ताव.

●मत्स्य उत्पादन बढ़ाकर 200 लाख टन करने का प्रस्ताव लाया जाएगा
हमारी सरकार समुद्री मत्स्य संसाधनों के प्रबंधन के लिए एक फ्रेमवर्क बनाने का प्रस्ताव करती है, 2022-23 तक मत्स्य उत्पादन बढ़ाकर 200 लाख टन करने का प्रस्ताव लाया जाएगा. बैकवर्ड लिंकेज के रूप में ग्राम भंडार स्कीम स्व-सहायता समूहों द्वारा चलाए जाने का प्रस्ताव

●जन औषधि केंद्र हर जिले में खोले जाएंगे
जन औषधि केंद्र हर जिले में खोले जाएंगे, 12300 करोड़ स्वच्छ भारत मिशन के लिए, नेशनल फॉरेंसिक साइंस विश्वविद्यालय बनाया जाएगा. 

●यह बजट तीन महत्वपूर्ण विषयों के इर्द-गिर्द बना है 
यह बजट तीन महत्वपूर्ण विषयों के इर्द-गिर्द बना है, महत्वाकांक्षी भारत जिसमें समाज के सभी वर्ग, स्वास्थ्य, शिक्षा, बेहतर नौकरी और जीवन स्तर 

●कृषि क्षेत्र के लिए 2.83 करोड़ रुपये दिए
कृषि क्षेत्र के लिए 2.83 करोड़ रुपये दिए जाएंगे. दूध मांस मछली के लिए किसान रेल चलाया जाएगा. पंचायत स्तर पर कोल्ड स्टोरेज बनाए जाएंगे.

●किसानों को 15 लाख करोड़ तक कर्ज का लक्ष्य
किसानों को 15 लाख करोड़ तक कर्ज का लक्ष्य है. सरकार के कार्यकाल में 27 लाख लोगों को गरीबी रेखा से निकाला गया 

●2014-19 में FDI बढ़कर 284 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया
2014-19 में FDI बढ़कर 284 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया.  2019 में भारत सरकार का ऋण घटकर GDP का 48.7% रह गया मैं इस बजट को दो अत्याधुनिक विकास की पृष्ठभूमि में पेश करना चाहती हूं, प्रोद्यौगिकियों का प्रचुर प्रसारण, विशेषकर विश्लेषणात्मक, मशीन रोबोटिक्स, बायो-इंफोरमेटिक्स

●दो वर्षों में 60 लाख से अधिक करदाताओं को जोड़ा गया 
2014-19 में FDI बढ़कर 284 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया.  2019 में भारत सरकार का ऋण घटकर GDP का 48.7% रह गया.  साल 2009-14 के दौरान मुद्रास्फीति 10.5% के दायरे में थी अब हम विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं कम जीएसटी दरों के कारण औसत परिवार के मासिक खर्च में लगभग 4% की बचत , दो वर्षों में 60 लाख से अधिक करदाताओं को जोड़ा गया : वित्त मंत्री 

●2022 तक किसानों की आय दोगुनी करनी है
हमार देश की दुनिया की 5वीं अर्थव्यवस्था है. अब हर घर अपनी आय का 4 फीसदी बचा लेता है. पहले कुछ लोगों को सारे लाभ मिलते थे. लेकिन हमने यह व्यवस्था बदल दी है. जल संकट से जूझने के लिए 100 जिलों मे कदम उठाए गए हैं.2022 तक किसानों की आय दोगुनी करनी है

●निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण पढ़ना शुरू किया
वित्त मंत्री ने कहा कि जनादेश हमें आर्थिक स्थाइत्व के लिए भी मिला है. उन्होंने कहा कि सरकार ने बैंकिंग सिस्टम को सुधारा है.-