ALL State International Health
मानसिक स्वास्थ्य पर  सामुदायिक स्तर पर जागरूक करें : प्रो. ढोलकिया
October 12, 2020 • A.K.SINGH

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के व्यावहारिक मनोविज्ञान विभाग द्वारा तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के दूसरे दिन आज के समय में मानसिक स्वास्थ्य को कैसे बढ़ावा दे विषय पर पैनल-चर्चा का आयोजन किया गया।  बतौर मुख्य अतिथि  ग्लोबल मेंटल हेल्थ एसोसिएशन, संयुक्त राज्य अमेरिका की मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रो0 मानसी ढोलकिया ने कहा कि
मानसिक स्वास्थ्य एक ऐसा विषय है जो हम सब से जुड़ा है | हम उसे समझते तो हैं, लेकिन उसके बारे में चर्चा नहीं करना चाहते हैं ।आज जरूरत है कि हम सब इस विषय पर वैश्विक स्तर पर ही नहीं परंतु सामुदायिक व स्थानीय स्तर पर भी लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। मुख्य वक्ता प्रोफेसर सिन्हा ने बताया कि सहानुभूति एक ऐसा मानवीय गुण है, जो हम सबके अंदर होना चाहिए। अगर हम किसी व्यक्ति के कष्ट को अपना कष्ट समझ कर उसके अनुरूप दूसरों के साथ व्यवहार करें तो यह काफी हद तक हमारे मानसिक स्वास्थ्य को उन्नत बना सकता है।
    पैनल में प्रो0 रामजी लाल श्रीवास्तव, बीएचयू के प्रो0 ओपी सिंह, कानपुर से प्रो0 निर्मल कुमार सक्सेना, प्रयागराज  एमडीपीजी कॉलेज, प्रतापगढ़ के भूगोल विभाग से एसोसिएट प्रो0 डॉ अखिलेश कुमार पांडेय, भीमराव अंबेडकर कॉलेज, नई नई दिल्ली से डॉ0 नवीन कुमार, गोरखपुर से होम्योपैथी डॉक्टर, डॉ0 आदित्य दुबे ने उपरोक्त विषय पर एक अंत:विषयी दृष्टिकोण प्रस्तुत किया। पैनल के मध्यस्थ के रूप मे डॉo मनोज कुमार पाण्डेय, सहायक आचार्य रहे। दिन के प्रथम आमंत्रित वक्ता के रूप में इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के मनोविज्ञान विभाग के पूर्व आचार्य प्रो0 योगानंद सिन्हा द्वारा संदेहात्मक सूचनाएं एवं मानसिक स्वास्थ्य विषय पर अपना विशेष आमंत्रित व्याख्यान दिया गया। 
     तीन दिवसीय कार्यक्रम के तीसरे तकनीकी सत्र में विभिन्न राज्यों से जुड़े 20 शिक्षकों, शोधार्थियों तथा छात्रों द्वारा अपने शोध पत्रों का प्रस्तुतीकरण किया । आयोजन सचिव के रूप मे विभाग की सहायक आचार्य, सुश्री अन्नू त्यागी तथा केरल के स्टेप्स फॉर स्किल संस्था के निदेशक डॉ0 जयन नंबूदार ने आज के कार्यक्रम के शैक्षिक एवं तकनीकी पहलुओं अपना सहयोग प्रदान किया।