ALL State International Health
लाकडाउन में 15 साल की नाबालिग लडकी की हो रही थी शादी, एन मौके पर पहुंचे एनजीओ, शादी रूकवाई
April 30, 2020 • A.K.SINGH

 

रूद्रप्रयाग/बसुकेदार। एक ओर जहाँ पूरे देश में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की चैन तोडने के लिए सम्पूर्ण देश में लाकडाउन चल रहा है तो  वहीं रूद्रप्रयाग में इस लाकडाउन की न केवल धज्जियां उड़ाई जा रही है बल्कि कानून को ताक पर रखकर नाबालिग लड़की का विवाह कार्यक्रम भी चल रहा था। 

दरअसल पूरा मामला रुद्रप्रयाग के बसुकेदार तहसील का है जहाँ लाकडाउन में एक नाबालिग लड़की की शादी करवाई जा रही है। यहा एक गाँव की 15 वर्षीय  नाबालिग लडकी की शादी करीब 28 वर्षीय कौशलपुर कालोनी निवासी अमित पुत्र बरदास के साथ की जा रही थी। लडकी की जन्म तिथि आधार कार्ड के अनुसार 11 नवम्बर 2005 है। इस बात की सूचना जब केदार बद्री श्रमिक सस्था के अध्य्क्ष राजेंद्र नेगी व मनोहर डिमरी को लगी तो उन्होंने नाबालिगा के घर बारात पहुचने से पहले ही लडकी के घर जाकर जनकारी जुटाई और पुलिस, ग्राम प्रधान, आशा कार्यकत्री  की मदद से इस शादी  को रोक दिया।  लडकी के परिजनों द्वारा मामला बढता देख बारात को रास्ते से ही  वापस लौटा दिया।  पुलिस द्वारा लडकी के परिजनों को से अधिक जानकारी जुटाई जा रही है। 

तस्वीरों में साफ नजर आ रहा है कि यहां शादी के लिए टेंट लगाया गया था और ग्रामीण की भीड भी जुटी है। जबकि शादी के लिए भी जारी नियमों के अनुसार पांच लोग अधिक शामिल नहीं हो सकते हैं। जबकि यहा न केवल लाकडाउन की धज्जियां उड़ाई जा रही थी बल्कि नाबालिग की शादी करवाकर कानून को भी ठेंगा दिखाया जा रहा था।