ALL State International Health
जुमे की नमाज को लेकर प्रदेश में अलर्ट,* *कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद
December 27, 2019 • A.K.SINGH


       लखनऊ। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में बीते 19 दिसंबर को उग्र प्रदर्शन के करीब एक हफ्ते बाद भी उत्तर प्रदेश में तनाव है। प्रदेश के कई जिलों में जुमे की नमाज के बाद शुक्रवार को हिंसा होने की आशंका को लेकर शासन ने सुरक्षा बढ़ा दी है।
   पुलिस की नजर जुमे की नमाज में एकत्र होने वाली भीड़ पर है। इसको लेकर कई जिलों में अलर्ट जारी हो गया है।
   आगरा सहित आधा दर्जन कई जिलों में गुरुवार को शाम सात बजे से शुक्रवार तक मोबाइल इंटरनेट को बंद रखा जाएगा। प्रदेश में शुक्रवार को जुमे की नमाज पर सभी जिलों में अलर्ट घोषित किया गया।
    डीजीपी मुख्यालय ने महोबा, लखनऊ, सम्भल व मुराबादाबाद में अलर्ट जारी किया गया। इसके तहत हर थाना से लेकर एसपी को भी अलर्ट किया गया। सभी को महत्वपूर्ण मस्जिद पर नजर रखने के साथ मौलाना व शहर काजी से संवाद स्थापित करने का निर्देश दिया गया है।
  इसके साथ ही सभी संवेदनशील जगह पर फुट पेट्रोलिंग और फ्लैग मार्च का आदेश दिया गया है। लखनऊ व कानपुर के साथ मेरठ, बिजनौर, फिरोजाबाद व सम्भल में हिंसा में 17 लोगों की मौत हो गई थी।
    20 दिसंबर को जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन के दौरान हिंसा तेज होने के बाद सरकार अब फूंक-फूंककर कदम रख रही है। किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए फोर्स अलर्ट पर है, साथ ही आधा दर्जन शहरों में शुक्रवार को मोबाइल इंटरनेट सेवा बाधित कर दी गई है।
  नागरिकता संशोधन कानून के विरोध को लेकर बीते शुक्रवार को हिंसा के बाद अब प्रदेश सरकार हाई अलर्ट पर है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों में जिला तथा पुलिस प्रशासन ने आज से ही सतर्कता बरत दी है। बिजनौर, मेरठ, सहारनपुर, आगरा, फिरोजाबाद तथा मथुरा के साथ ही बुलंदशहर में आज से मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। शुक्रवार को होने वाली जुमे की नमाज पर सभी की निगाहें हैं।