ALL State International Health
जनपद में अब तक 604,03,000/- रूपयें कुल 60403 व्यक्तियों के खातों में 1000/- रूपये (प्रति व्यक्ति) की दर से डी.बी टी. के माध्यम से ट्रान्सफर किये गये-जिलाधिकारी
May 2, 2020 • A.K.SINGH

 

वाराणसी- जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देशानुसार कोरोना वायरस (कोविड-2019) के संक्रमण से बचाव हेतु जनपद वाराणसी में लॉकडाउन के कारण व्यवसायिक व औद्योगिक गतिविधियाॅ बन्द होने से बहुत से निराश्रित-मजदूरों, कामगारों, खेतीहरों, पल्लेदारों, पट्री के दुकानदारों, ऑटो चालक, रिक्सा चालक आदि प्रभावित होने के कारण समस्या उत्पन्न हो गया है, सभी ऐसे लोगों का नगरीय क्षेत्र में नगर निगम व ग्रामीण क्षेत्र में खण्ड
विकास अधिकारियों के माध्यम से सर्वे कराकर शासन द्वारा दिये गये दिशा निर्देशों के अनुसार ऐसे
समस्त निराश्रित-मजदूरों, कामगारों, खेतीहरों, पल्लेदारों, पट्री के दुकानदारों, ऑटो चालक, रिक्सा
चालक आदि को डी.बी.टी. के माध्यम से उनके खातों में 1000 /- रूपये ट्रॉन्सफर किये जा रहे है। शनिवार को डी. टी.बी के माध्यम से 5462 व्यक्तियों के खातों में 1000 /- रूपये ट्रान्सफर किये गये। जनपद में अब तक कुल 60403 (604,03,000/- रूपयें) व्यक्तियों के खातों में 1000/- रूपये (प्रति व्यक्ति) डी. बी टी. के माध्यम से ट्रान्सफर किये जा चुके है।


⏭वाराणसी शहर की 3 मई तक लागू लॉक डाउन की शर्तों में दवाई की दुकानों को खोलने का समय आज की तरह 1 घंटे से बढ़ाकर 4 घंटे किया जा रहा है।

ये दुकानें 2 और 3 मई को भी सुबह 11:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक खुली रह सकती हैं।

अन्य निर्देश यथावत हैं।

दूध की दुकानें यथावत सुबह 7 से 8 बजे तक ही खुलेंगी।

सभी गली मोहल्लों में दूध, सब्जी, राशन और अन्य आवश्यक वस्तुओं के ठेलों और वाहनों से सामान बेचना शाम 6 बजे तक अनुमन्य होगा। इन सबकी होम डिलीवरी भी शाम 6 बजे तक अनुमन्य रहेगी। 

होम डिलीवरी में आज बहुत से व्यापारी और दुकानें और जुड़ी हैं। आगे भी इन्हें ज्यादा से ज्यादा जोड़ा जाएगा।

4 मई सोमवार से किराने की और अन्य आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खोलने के लिए शहर को कुछ जोन में बांटते हुए जोन वार रोस्टर निर्धारित किया जाएगा। हर जोन में कुछ थाने होंगे। 

4 मई से पूरे शहर की दुकानें पहले की तरह एक साथ नही खुलेंगी।
1 जोन ही रोस्टर वाइज एक दिन में खुलेगा और उसमें निर्धारित श्रेणी की दुकानें ही उस दिन खुल सकती हैं। दुकानें खुलने का समय भी नए सिरे से तय किया जाएगा।

दवा की थोक मंडी खोलने की मांग पूर्वांचल के कई जिलों से और वाराणसी के रिटेल दुकानदारों से आ रही है। ये मंडी और अनाज गल्ला मंडी भी 4 मई सुबह से खुलेंगी। इनका दुकानों का आंतरिक रोस्टर व्यापारी गण और एसोसिएशन से प्राप्त किया जा रहा है। इसमे सभी दुकानें प्रतिदिन नहीं खुलेंगी, रोस्टर वॉर इनमे कुछ कुछ दुकानें ही प्रति दिन खुलेंगी ताकि सभी आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई भी सुचारू रूप से होती रहे और व्यापारियों और रिटेलर्स की सोशल डिस्टनसिंग भी कड़ाई से लागू हो।

जिलाधिकारी
वाराणसी