ALL State International Health
इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों के लिए अध्‍ययन का विषय बनेगी अटल टनल-PMमोदी
October 4, 2020 • A.K.SINGH

   धर्मशाला, जेएनएन। अब अटल टनल रोहतांग देश में उत्तम इंजीनियर बनाने का जरिया बनेगी। इंजीनियरिंग कॉलेज और यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों के लिए यह शोध का विषय बनेगा। मुश्किल परिस्थितयों में हुए काम को इजीनियरिंग विद्यार्थी समझ सकें, इसके लिए यहां का भ्रमण करवाया जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अटल टनल उन लोगों के आत्मविश्वास का प्रतीक है, जिन्होंने अपने हौसले से पीरपंजाल के बड़े पहाड़ को काटकर देश से कटे रहने वाले क्षेत्र को जोड़ दिया। इंजीनियरिंग का एक बेहतरीन नमूना अटल टनल है, इसका पता पूरे देश और दुनिया को होना चाहिए।

     पीएम ने कहा कि मेरे तीन सुझाव हैं। यह सुझाव रक्षा मंत्रालय, शिक्षा मंत्रालय और बीआरओ के लिए हैं। उन्होंने कहा शिक्षा मंत्रालय देशभर की इंजीनियर यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के छात्रों को अटल टनल रोहतांग के बारे में जानकारी दें कि किस तरह से यहां इंजीनीयरों ने विषम परिस्थितयों में काम किया और किन चुनौतियों का सामना किया। इसके लिए हर कॉलेज से यहां छात्रों को भ्रमण करवाया जाए, ताकि वह करीबी से बाधाओं को समझ सकें।

     कोशिश हो कि देश सहित विदेश की यूनिवर्सिटयों के छात्र भी अटल टनल पर शोध कर सकें। उन्होंने कहा देश की सबसे ऊंचे क्षेत्र में कैसे इस टनल का निर्माण हुआ इसका ज्ञान बच्चों को होना चाहिए। दुनिया के अंदर हमारी इस ताकत का परिचय होना चाहिए। सीमित संसाधनों के बीच हमारे जवान कैसे काम कर सकते हैं, इसका पता पूरे विश्व को हो। इसलिए रक्षा, शिक्षा और विदेश मंत्रालय मिलकर काम करें, ताकि यह एजुकेशन का हिस्सा बन जाए। उत्तम इंजीनियर बनाने का काम यह टनल करेगी।

बीआरओ बनाए डॉक्टयूमेंट प्रत्येक कर्मचारी लिखे पांच से 10 पेज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा इस अटल टनल को बनाने वाले बीआरओ की टीम इंजीनियर और मजदूर कम से कम 1000 से 1500 लोग पांच से दस पेज लिखें कि उनको क्या दिक्कतें हुईं और किस तरह से उनको पूरा किया गया है। सब लोग अपना अनुभव साझा करें, इसको किताब के रूप में न दे सकें तो डिजिटल ही बनाए। बीआरओ इसके लिए एक व्यक्ति नियुक्त करे जो इस काम को देखे। उन्होंने कहा इंजीनियरिंग और वर्क क्लचर की दृष्टि से यह टनल यूनीक है। जब से इसका काम शुरू हुआ अब तक कैसे पूरा हुआ, उसका पूरा उल्लेख अपने शब्दों में करें।

हिमाचल के लोगों के प्यार में दबा हूं

 

पीएम मोदी ने कहा हिमाचल के प्यार में इतना दबा हूं कि मेरे यहां पर तीन कार्यक्रम तय कर दिए गए। यह हिमाचल का प्यार ही है कि मुझे यहां खींच लाता है। आज अटल टनल रोहतांग का उद्घाटन मेरे सहित देश के लिए ऐतिहासिक है।