ALL State International Health
हम दिल्ली में अपनी मर्जी से रुके हैं, हम बीजेपी के ‘बंधक’ नहीं -पायलट खेमे के विधायक
July 25, 2020 • A.K.SINGH

नई दिल्ली: राजस्थान में जारी सियासी घमासान पर सबकी नजरें हैं. सचिन पायलट और उनके खेमे के 18 विधायक बागी हो चुके हैं. पायलट खेमे के कुछ विधायक दिल्ली में मौजूद हैं. कांग्रेस ये आरोप लगा चुकी है कि इस सबके पीछे बीजेपी का हाथ है. इस बीच अब पायलट खेमे के कुछ विधायकों के बयान सामने आए हैं.

   दिल्ली में मौजूद पायलट खेमे के विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने कहा कि जयपुर में कुछ लोग ये दावा कर रहे हैं कि हमें बीजेपी ने बंधक बनाया हुआ है. हम यहां अपनी मर्जी से आए हैं. उन्होंने कहा, ‘’वास्तव में, यहां तक पहुंचने के लिए मेरे पास डीएम की तरफ से मिला पास है.’’

     वहीं सचिन पायलट को समर्थन करने वाले विधायक मुरली लाल मीना ने कहा कि हम लोग दिल्ली में रुके हुए हैं. सीएम अशोक गहलोत कहते हैं कि हमें यहां बीजेपी ने बंधक बनाया हुआ है. ये गलत है. हम कभी बीजेपी के संपर्क में नहीं रहे हैं. इसके उलट, सीएम की तरफ से एसओजी के उपयोग की वजह से हमारे घरवाले डरे हुए हैं.

     इसके अलावा सुरेश मोदी नाम के विधायक ने कहा कि हम लोग ये साफ कर देना चाहते हैं कि हम लोग यहां अपनी मर्जी से हैं. इसके साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साध दिया. उन्होंने कहा कि हमारे प्रयासों के बावजूद उन्होंने हमारे निर्वाचन क्षेत्रों में काम से संबंधित हमारी किसी भी मांग को नहीं सुना गया.

 

      उधर आज राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार के समर्थक कांग्रेसी विधायक राजभवन पहुंचे. मुख्यमंत्री राज्यपाल से विधानसभा सत्र बुलाए जाने की मांग कर रहे हैं. बीजेपी ने मुख्यमंत्री गहलोत पर निशाना साधा है. बीजेपी की राजस्थान इकाई के अध्यक्ष सतीश पूनियां ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को विधानसभा का सत्र बुलाने को लेकर इतना अधीर नहीं होना चाहिए.