ALL State International Health
गिरफ्तार पूर्व सांसद धनंजय सिंह का आरोप ने मंत्री गिरीश यादव और एसपी जौनपुर ने हमे फंसाया
May 11, 2020 • A.K.SINGH


*कहा दोनों की मिली भगत से मुझे फंसाया गया*
     जौनपुर। बीती रात धनंजय सिंह को प्रोजेक्ट मैनेजर के अपहरण और धमकाने के आरोप में पूर्व सांसद धनंजय सिंह और उनके सहयोगी संतोष विक्रम सिंह को लाइन बाजार पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।
    जेल जाते समय मीडिया से बातचीत करते हुए धनंजय ने अपने आप को बेकसूर बताते हुए कहा कि मेरी छवि धूमिल करने के लिए राज्यमंत्री गिरीश यादव और एसपी ने षड्यंत्र करके मुझे फंसाया है।
 उन्होंने कहा कि जिले के विकास के लिए मैंने ऑडिटोरियम पास कराया था, ठेकेदारी के विवाद को लेकर मंत्री गिरीश यादव ने कैंसिल करा दिया। सीवर ट्रीटमेंट प्लांट में करेप्शन फैलाया है, अपने कार्यकाल के तीन वर्षो में गिरीश ने 100 करोड़ की संपत्ति अर्जित किया है। मैं इसकी जाँच कराऊंगा।
  धनंजय ने कहा कि लॉक डाउन के दरम्यान मेरी टीम एमएलसी ब्रजेश सिंह प्रिंसु के नेतृत्व में लगातार गरीबो को राशन, भोजन और मास्क वितरित कर रही थी, जिसके कारण मेरी बढ़ती लोकप्रियता को देखकर वे लोग बौखला गए थे।
      मिली जानकारी के अनुसार नगर में चल रहे सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के मैनेजर अभिनव सिंघल ने थाने में तहरीर दिया कि पूर्व सांसद धनञ्जय सिंह अपने आदमियो से जबरदस्ती मुझे अपने आवास पर बुलाकर धमकाया और जान से मारने की धमकी दिया। लाइन बाजार थाने की पुलिस ने कल रात करीब 2 बजे धनञ्जय के आवास पर छापे मारी करके गिरफ्तार करके उन्हें और उनके साथी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया।