ALL State International Health
एम्स डायरेक्टर को शाह ने भेजा अहमदाबाद, डॉक्टरों को करेंगे गाइड
May 9, 2020 • A.K.SINGH

 

गुजरात में कोरोना का केंद्र बना हुआ है अहमदाबाद
●राज्य में कोरोना के 7 हजार से ज्यादा मामले, 449 लोगों की मौत

गुजरात में कोरोना वायरस का विस्फोट जारी है. यहां पर 7 हजार से ज्यादा केस हैं. गुजरात में अहमदाबाद कोरोना का केंद्र बना हुआ है. 300 से ज्यादा लोग अब तक कोरोना के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं. जिले में 5200 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. इस बीच, गृहमंत्री अमित शाह ने एम्स (दिल्ली) के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया और डॉ मनीष सुर्जा को अहमदाबाद भेजा है. दोनों सिविल अस्पताल और एसवीपी अस्पताल का दौरा करेंगे. डॉक्टर्स को हालात पर काबू पाने को लेकर गाइड करेंगे. अमित शाह के निर्देशों के अनुसार दोनो डॉक्टरों को भारतीय वायुसेना के एक विशेष विमान से अहमदाबाद ले जाया गया है.

गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 390 नए केस सामने आने के बाद राज्य में संक्रमण के मामले बढ़कर शुक्रवार को 7,403 हो गए. प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) जयंती रवि ने बताया कि इस दौरान 24 लोगों की मौत से मृतकों की संख्या भी बढ़कर 449 हो गई. उन्होंने बताया कि 163 मरीजों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी भी दी गई. राज्य में अभी तक 1,872 संक्रमित लोग स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं 5,082 लोगों का अभी इलाज जारी है.

*'कोरोना के केस जून में पीक पर होंगे'*

बता दें कि एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने गुरुवार को ही कहा था कि भारत में कोरोना वायरस जून में अपने चरम पर होगा. उन्होंने कहा है कहा कि लॉकडाउन का फायदा मिला है और लॉकडाउन में कोरोना के केस ज्यादा नहीं बढ़े.

रणदीप गुलेरिया ने आजतक से खास बातचीत में कहा, 'जिस तरीके से ट्रेंड दिख रहा है, कोरोना के केस जून में पीक पर होंगे. हालांकि ऐसा बिल्कुल नहीं है कि बीमारी एक बार में ही खत्म हो जाएगी. हमें कोरोना के साथ जीना होगा. धीरे-धीरे कोरोना के मामलों में कमी आएगी.'

*देश में कितने केस*

देश में हर रोज कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है. अबतक 59 हजार 342 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं और करीब 1886 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है. राहत की बात है कि अभी तक 16 हजार से अधिक ठीक हुए हैं.