ALL State International Health
दंगा भड़काने के मकसद से ट्विट करने का आरोप-सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज
May 21, 2020 • A.K.SINGH

 

बंगलुरू - कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है, आरोप है कि सोनिया गांधी के अधिकृत टिवटर एकांउट से विगत 11 मई को एक पोस्ट हुई जिसमें उन्होंने पीएम केयर्स फंड को लेकर गलत जानकारी दी और जनता को गुमराह किया गया, सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी के अन्य नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है, ट्वीट को 11 मई को शेयर किया गया था जिसमें फंड के बारे में गलत जानकारी दी गई थी, कर्नाटक के शिवमोग्गा जिले के सागर तालुक में यह एफआईआर दर्ज की गई है, हालांकि पार्टी का तर्क है कि श्रीमती गांधी का टिवटर एकांउट पार्टी की सोशल मीडिया की टीम हैंडल करती है,
एफआईआर में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153 के तहत (दंगा भड़काने के इरादे से भड़काऊ बयान देना) और 505 (सार्वजनिक उपद्रव के लिए जिम्मेदार बयान) के तहत दर्ज की गई है, अधिवक्ता प्रवीण केवी की शिकायत में आरोप लगाया गया कि कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट के माध्यम से भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बयानबाजी की और लोगों को सरकार के खिलाफ भड़काने का प्रयास किया। प्राथमिकी के अनुसार, कांग्रेस पार्टी ने 11 मई, 2020 को झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाए थे |