ALL State International Health
चंदौली: गोली से घायल ग्राम प्रधान की इलाज के दौरान मौत
April 10, 2020 • A.K.SINGH


      चंदौली। बाइक सवार बदमाशों की गोली से घायल बलुआ थाना क्षेत्र के महरौड़ा गांव के ग्राम प्रधान मनोज यादव (35) की शुक्रवार की भोर में इलाज के दौरान ट्रामा सेंटर में मौत हो गयी। इससे गांव में कोहराम मच गया है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।
    ग्राम प्रधान गुरुवार की शाम करीब आठ बजे गांव के चौराहे पर लोगों को लॉक डाउन का पालन करने के लिए जागरूक कर रहे थे। इसी बीच बाइक पर सवार होकर पहुंचे दो बदमाशों ने गोली मार दी। दो गोली प्रधान के कमर में लगी थी। 
    सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने घायल प्रधान की ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान शुक्रवार की भोर में उनकी मौत हो गयी।
    घटना के बाद एसपी हेमंत कुटियाल, एएसपी प्रेमचंद, एसडीएम प्रदीप कुमार, सीओ जगत कनौजिया ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की थी। 
   हालांकि अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस स्थानीय स्तर पर रंजिश को लेकर घटना की छानबीन कर रही थी। बदमाशों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा था। जबकि परिजनों की मानें, तो प्रधान काफी मिलनसार स्वभाव के थे। उनकी किसी से रंजिश नहीं थी। ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या के बाद जनप्रतिनिधियों ने शोक संवेदना प्रकट की है। रात भर चिकित्सकों के टच में रहे केंद्रीय मंत्री केंद्रीय कौशल विकास व उद्यमशीलता मंत्री और सांसद डॉ महेंद्रनाथ पांडेय ने घटना पर शोक जताया। उन्होंने ट्रामा सेंटर के अधीक्षक से रात में वार्ता कर घायल प्रधान का हाल जाना। सही ढंग से इलाज करने के निर्देश दिए थे।
   स्थानीय भाजपा नेताओं ने केंद्रीय मंत्री को घटना की जानकारी दी। उन्होंने ट्रामा सेंटर के अधीक्षक से बात कर बेहतर ढंग से इलाज का निर्देश दिया। वहीं संकट की घड़ी में परिजनों को ढांढस बंधाया। पूर्व सांसद रामकिशुन यादव ने महड़ौरा गांव पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की। साथ ही मृत ग्राम प्रधान के परिजनों को ढांढस बंधाया। कहा, लचर कानून व्यवस्था के चलते बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। पुलिस तत्काल बदमाशों को गिरफ्तार करे। जिला पंचायत सदस्य सूर्यमुनी तिवारी ने पोस्टमार्टम हाउस पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की। उन्होंने घटना की निंदा की। साथ ही संकट की घड़ी में परिजनों को ढांढस बंधाया। उधर विधायक सुशील सिंह का कहना रहा कि मनोज उनके सहयोगी रहे। उनकी मौत से गहरा आघात लगा है।