ALL State International Health
2025 तक दोगुना होगा दूध का उत्पादन, मनरेगा को लेकर हुआ बड़ा एलान
February 2, 2020 • A.K.SINGH

 

नई दिल्ली-2020 के दशक का पहला बजट वित्तमंत्री निर्मला सीतारामण पेश कर रही हैं।ये मोदी सरकार के बजट का सातंवा साल है और आठंवा बजट है।2014 से 2018 तक दिवंगत पूर्व वित्तमंत्री अरूण जेटली ने बजट पेश किया था मोदी सरकार के पहले कार्यकाल का अंतिम अतंरिम बजट पीयूष गोयल ने पेश किया था जबकि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट वित्तमंत्री निर्मला सीतारामण ने जुलाई में पेश किया था।लगातार दो बजट पेश करने वाली निर्मला सीतारामण देश की पहली महिला वित्तमंत्री होंगी।

*1:* बजट में हर जिले में मेडिकल कॉलेज खोलने का भी एलान किया गया है। वित्त मंत्री ने जानकारी दी कि जल्द ही नई शिक्षा नीति का ऐलान किया जाएगा।दुनिया के अलग अलग देशों के छात्रों को भारत में शिक्षा के लिए सुविधाओं का एलान भी किया गया।इसके साथ ही भारत के छात्रों को सरकार उच्च शिक्षा के लिए एशियाई और अफ्रीकी देशों में भेजेगी।

*2:* बजट में टीबी की बीमारी को हराने के लिए भी बड़े एलान किए गए। वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार की कोशिश देश को 2025 तक टीबी मुक्त कराने की है।वित्त मंत्री ने टीबी के खिलाफ नारा दिया- टीबी हारेगा, देश जीतेगा।प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत सेंटर्स की संख्या को बढ़ाने का एलान किया गया।

*3:* बजट में मोदी सरकार ने स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए भी बड़े एलान किए, बजट में वित्त मंत्री ने स्वास्थ्य योजनाओं के लिए 70 हजार करोड़ का एलान किया है। इसके साथ ही निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार फिट इंडिया को मूवमेंट को बढ़ावा देने के लिए बड़ा एक्शन ले रही है।आयुष्मान भारत योजना के तहत पीपीपी मॉडल की मदद से अस्पतालों की संख्या को बढ़ाया जाएगा।इंद्रधनुष मिशन का विस्तार किया जाएगा, इसमें 12 नई बीमारियों को जोड़ा जाएगा।

*4:* मनरेगा और मछली पालन को लेकर भी वित्त मंत्री ने बड़े एलान किए। उन्होंने कहा कि मनरेगा के अंदर चारागाह को जोड़ दिया जाएगा। ब्लू इकॉनोमी के जरिए मछली पालन को बढ़ावा दिया जाएगा।फिश प्रोसेसिंग को बढ़ावा दिया जाएगा।उन्होंने कहा कि किसानों के अनुसार से एक जिले, एक प्रोडक्ट पर फोकस किया जाएगा।जैविक खेती के जरिए ऑनलाइन मार्केटिंग को बढ़ाने की बात भी वित्त मंत्री ने कही।उन्होंने कहा कि जैविक खेती के जरिए ऑनलाइन मार्केट को बढ़ाया जाएगा।वित्त मंत्री ने कहा कि दूध के प्रोडक्शन को दोगुना करने के लिए सरकार की ओर से योजना चलाई जाएगी,साल 2025 तक दूध के उत्पादन को दोगुना किया जाएगा।

*5:* वित्त मंत्री ने बजट में महिला किसानों का भी ध्यान रखा है।उन्होंने कहा कि महिला किसानों के लिए धन्य लक्ष्मी योजना का ऐलान किया,जिसके तहत बीज से जुड़ी योजनाओं में महिलाओं को मुख्य रूप से जोड़ा जाएगा।वित्त मंत्री ने फर्टिलाइज़र के संतुलित इस्तेमाल की भी बात कही।फर्टिलाइज़र के कम इस्तेमाल के लिए जानकारी को बढ़ाया जाएगा।

*6:* वित्त मंत्री ने बड़ा एलान करते हुए कहा कि कृषि उड़ान योजना को शुरू किया जाएगा।इस योजना के तहत अब विमान से जाएगा किसानों का सामान भेजा जाएगा।उन्होंने कहा कि इंटरनेशनल,नेशनल रूट पर इस योजना को शुरू किया जाएगा।फसल के रख रखाव को लेकर भी वित्त मंत्री ने बड़ा एलान किया।उन्होंने पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप की बात कही।उन्होंने कहा कि देश में मौजूद वेयर हाउस, कोल्ड स्टोरेज को नबार्ड अपने अंडर में लेगा और नए तरीके से इसे डेवलेप किया जाएगा।देश में और भी वेयर हाउस, कोल्ड स्टोरेज बनाए जाएंगे।इसके लिए PPP मॉडल अपनाया जाएगा।

*7:* किसानों के लिए 16 सूत्रीय फॉर्मूले का ऐलान किया गया।वित्त मंत्री ने कहा- हमारी सरकार किसानों के लिए 16 सूत्रीय फॉर्मूले का ऐलान करती है, जिससे किसानों को फायदा पहुंचाएगा। उन्होंने कहा- मॉर्डन एग्रीकल्चर लैंड एक्ट को राज्य सरकारों द्वारा लागू करवाना।100 जिलों में पानी की व्यवस्था के लिए बड़ी योजना चलाई जाएगी, ताकि किसानों को पानी की दिक्कत ना आए।पीएम कुसुम स्कीम के जरिए किसानों के पंप को सोलर पंप से जोड़ा जाएगा।इसमें 20 लाख किसानों को योजना से जोड़ा जाएगा।इसके अलावा 15 लाख किसानों के ग्रिड पंप को भी सोलर से जोड़ा जाएगा।सरकार 2022 कर किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रतिबद्ध है।

*8:* किसानों के लिए वित्त मंत्री ने किया बड़ा एलान, वित्त मंत्री ने कहा- हमारी सरकार की ओर से किसानों के लिए बड़ी योजनाओं को लागू किया गया है। सरकार की ओर से कृषि विकास योजना को लागू किया गया है, पीएम फसल बीमा योजना के तहत करोड़ों किसानों को फायदा पहुंचाया गया।सरकार का लक्ष्य किसानों की आय दोगुना करना है।किसानों की मार्केट को खोलने की जरूरत है,ताकि उनकी आय को बढ़ाया जाएगा।

*9:* वित्त मंत्री ने कहा- इस बजट में तीन बिंदुओं पर फोकस किया जा रहा है, इनमें उम्मीदों का भारत, इकोनॉमिक डेवलेपमेंट और केयरिंग समाज को शामिल किया जा रहा है।

*10:* वित्त मंत्री ने पंडित दीनानाथ कौल की कश्मीरी में लिखी कविता पढ़ी. उन्होंने कहा- 'हमारा वतन खिलते हुए शालीमार बाग जैसा हमारा वतन डल झील में खिलता हुआ कमल जैसा नौजवानों के गर्म खून जैसा मेरा वतन, तेरा वतन, हमारा वतन, दुनिया का सबसे प्यारा वतन'

*11:* महंगाई पर काबू पाने में भी हमारी सरकार कामयाब रही।2009 से 2014 में महंगाई 10.5% थी।हमारे लोगों के पास रोजगार होना चाहिए।यह बजट उनकीआय सुनिश्चित करने और उनकी क्रय शक्ति को बढ़ाने के लिए है।हमारी सरकार ने महंगाई कम करने का प्रयास किया, 284 अरब डॉलर विदेशी निवेश आया।

*12:* जीएसटी को लेकर वित्त मंत्री ने विस्तार से जानकारी दी।उन्होंने कहा- जीएसटी रेट घटने से हर परिवार को हर महीने औसतन 4% की बचत हो रही है।जीएसटी ने कुछ चुनौतियों का भी सामना किया. हमने 60 लाख से ज्यादा नए टैक्सपेयर को जोड़ा।जीएसटी से इंस्पेक्टर राज खत्म हुआ।

*13:* वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- देश का हमारी आर्थिक नीति पर भरोसा है।इच्छा आकांक्षा पूरा करने वाला बजट है, इसके लिए सभी की इच्छाओं को पूरा करने की कोशिश है। सबके साथ और सबके विकास के आगे बढ़ रहे हैं।समुचित विकास के लिए हमने काम किए।वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिवंगत वित्त मंत्री अरुण जेटली को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी।उन्होंने कहा की जीएमटी ऐतिहासिक कदम रहा।